Please Enter your Email to get all new notification

उत्तराखंड की प्रमुख पत्र – पत्रिकाएं एवं पुस्तकें

उत्तराखंड में पत्रकारिता का पितामह विशम्बर दत्त चंदोला को कहते है

उत्तराखंड में प्रमुख संपादक एवं पत्र पत्रिकाएं निम्नलिखित थी –

द हिल्स1842 – जॉन मैकिनन यह उत्तराखंड का पहला समाचार था
समय विनोद 1868 – जयदत्त जोशीयह उत्तराखंड का पहला हिंदी समाचार था
अल्मोड़ा
अख़बार
बुद्धि बल्लभ पंत यह कुमाउँनी भाषा का पहला समाचार पत्र था
हिमालय
क्रॉनिकल
जॉन नॉर्थम
द ईगल मॉटर्न
गढ़वालीविश्मबर दत्त चंदोलायह गढ़वाली भाषा का पहला सामचार पत्र था
निर्बल सेवक राजा महेन्द्र प्रतापदेहरादून
विशाल कीर्ति सदानंद कुकरेती
गढ़वाल
समाचार
1902 – गिरजादत्त नैथानी इन्हे गढ़वाल में पत्रकारिता का जनक कहा जाता है |
शक्ति1918 – बद्रीदत्त पांडेय
छत्रीय वीर प्रताप सिंह नेगी
कुमाऊं कुमुधबसंत कुमार जोशी
स्वाधीन प्रजामोहन जोशी
गढ़देश1929 – कृपाराम मिश्रा
समता1934 – हरिप्रसाद टम्टा

उत्तराखंड की प्रमुख पुस्तकें

गढ़वाल का इतिहास हरिकृष्ण रतूड़ी
कुमाऊं का इतिहास बद्रीदत्त पांडेय
उत्तराखंड का इतिहास शिव प्रसाद डबराल
उत्तराखंड का नवीन इतिहास यशवंत कटोच
हिस्ट्री ऑफ़ गढ़वाल अजय रावत
रुद्रप्रयाग का आदमखोर बाघ जिम कॉर्बेट
भीड़ साक्षी है रमेश पोखरियाल निशंक
स्पर्श गंगा रमेश पोखरियाल निशंक
हिमालय का महाकुम्भ नंदा राजजात रमेश पोखरियाल निशंक
मेघदूतम का गढ़वाली अनुवाद आचार्य धर्मानंद
गीता का गढ़वाली अनुवाद उमादत्त नन्द किशोर और आदित्यराम
the boy from lambata N. S. THAPA
कुमाऊं की चित्रकला डॉ० यशोधर मठपाल
ब्रिटिश कुमाऊ गढ़वाल डॉ0 आर एस टोलिया
उत्तराखंड में कुली बेगार डॉ0 शेखर पाठक
गढ़वाल पेंटिंग्स बैरिस्टर मुकुन्दीलाल
मध्य हिमालय का पुरातत्व यशवंत सिन्हा कठौच
गढ़वाल की दिवंगत विभूतियाँ भक्त दर्शन
उत्तराखंड के प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी डॉ धर्मपाल सिंह मनराल
गढ़वाल एनिसिएंट एंड मॉर्डन पातीराम
हिमालय ट्रैवेलर्स जोध सिंह नेगी
गढ़वाल गजेटियर्स H. G.WALTON

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *